How To Write Letter In Hindi – 2021 Letter Writing In Hindi

आज इस पोस्ट के माध्यम से हम जानेंगे how to write letter in hindi. हम पत्र के प्रकारों से लेकर पत्र कैसे लिखे जाते हैं वहां तक पूरा जानेंगे. सबसे पहले तो मैं आपका इस वेबसाइट पर स्वागत करता हूं। आज आप इस वेबसाइट द्वारा जानेंगे कि how to write letter in hindi.

पत्र-लेखन एक कला है। अपने विचारों को संक्षेप में प्रभावकारी ढंग से विषय के अनुरूप भाषा का प्रयोग कर पहुँचाना एक प्रकार का हुनर है। अब तक हम पत्र भेजने के लिए लिफाफे का प्रयोग करते थे और उस पर पत्र भेजने वाले का नाम और पता लिखते थे। अब ई-मेल से भेजे जाने वाले पत्रों में लिफाफों की आवश्यकता नहीं रही। इसलिए पत्र में ही पत्र भेजने वाले का नाम, पता और ई-मेल आईडी लिखना होता है। अब आपको ई-मेल भेजने के तरीके से परिचित होना है। अतः इस वर्ष से ई-मेल के प्रारूप के अनुरूप पत्र लेखन की पद्धति अपनाना अपेक्षित है।

लेटर राइटिंग के प्रकार – How To Write Letter In Hindi

पत्र लेखन दो प्रकार के होते हैं।

  1. औपचारिक
  2. अनौपचारिक

1. औपचारिक पत्र – How To Write Letter In Hindi

प्रति लिखने के बाद पत्र पाने वाले का पद और पता लिखना चाहिए। फिर पत्र में विषय तथा संदर्भ का उल्लेख करना चाहिए। पत्र प्राप्त करने वाले के प्रति आदर प्रकट करने के लिए उसे महोदय/महोदया संबोधन से संबोधित करना चाहिए। इसके बाद पत्र में विषय के अनुसार कुछ परिच्छेदों में अपना आशय प्रकट करना चाहिए। फिर पत्र को समाप्त करते समय नीचे बाई ओर पत्र भेजने वाले के हस्ताक्षर, उसका नाम और पता लिखना चाहिए। साथ में ई-मेल आईडी भी देना चाहिए।

औपचारिक पत्र का स्ट्रक्चर – How To Write Letter In Hindi

दिनांक :…….

प्रति :…….

विषय :……..

संदर्भ :……..

महोदय,

विषय विवेचन :…….

भवदीय/भवदीया:…….

हस्ताक्षर :………

नाम:……..

पता :……..

ई-मेल आईडी :……..

2. अनौपचारिक पत्र – How To Write Letter In Hindi

व्यक्ति के रिश्तो और आयु के अनुसार संबोधन तथा अभिवादन लिखना चाहिए। शुरू में पत्र पाने वाले का कुशलक्षेम पूछना चाहिए। अनौपचारिक पत्र में विषय विवेचन की जरूरत नहीं होती। अपने उद्देश्य के अनुसार लेखन स्नेहा/सम्मान सहित प्रभावी शब्दों में होना चाहिए। पत्र को समाप्त करते समय नीचे बाय और पत्र भेजने वाले के हस्ताक्षर, नाम तथा पता लिखना चाहिए। साथ में ईमेल आईडी लिखनी चाहिए।

अनौपचारिक पत्र का स्ट्रक्चर – How To Write Letter In Hindi

दिनांक :………

संबोधन :……

अभिवादन

प्रारंभ :………..

विषय विवेचन :……..

समापन :………

हस्ताक्षर :……….

नाम :……..

पता :……..

ई-मेल आईडी :……..


How To Write Letter In Hindi – औपचारिक पत्र

A-92, दिव्य लोक, सुभाष चौक, तिलकनगर, पुणे से साहिल देशपांडे पेड़-पौधों की अनियंत्रित रूप से कटाई के लिए जिलाधीश महोदय, पुणे को पत्र लिखता है।

8 जुलाई, 2019

सेवा में,

जिलाधीश महोदय,

पुणे 411003

(महाराष्ट्र)

विषय: पेड़-पौधों की अनियंत्रित कटाई।

श्रीमान जी,

में इस पत्र के माध्यम से आपका ध्यान पेड़-पौधों की अनियंत्रित कटाई की ओर आकर्षित करना चाहता हूँ।

अत्यंत दुख व खेद का विषय है कि आज जब चारों ओर अधिक से अधिक वृक्ष लगाने की बात की जा रही स्वार्थी लोग भी हैं जो अपने प्रभाव के द्वारा सफाई के नाम पर वृक्षों को कटवा रहे हैं।

नगर में सड़कों के दोनों ओर सरकार द्वारा जो वृक्ष लगवाए गए थे, उनमें से अधिकांश कटवाए जा चुके हैं। कुछ समाजसेवी

संस्थाओं ने इसे रोकने का प्रयास किया तो उनके साथ मारपीट की गई।

मान्यवर, यदि यह कटाई इसी प्रकार चलती रही तो शीघ्र ही यह क्षेत्र वृक्षों से खाली हो जाएगा। आप से अनुरोध है कि पुलिस

तथा सतर्कता विभाग को इस स्थिति से निपटने के आदेश दें।

धन्यवाद सहित,

प्रार्थी,

साहिल देशपांडे

A-92, दिव्य लोक, सुभाष चौक, तिलकनगर, पुणे 411006


How To Write Letter In Hindi – अनौपचारिक पत्र

शिर्डी का अपूर्व / अपूर्वा कठाले हाईस्कूल परीक्षा में प्रथम आने पर बधाई देते हुए अपने मित्र/सहेली उदय/उदया को पत्र लिखता/लिखती है।

8 जून, 2019

प्रिय उदय,

सप्रेम नमस्ते ।

हम सब लोग यहाँ कुशलपूर्वक हैं और ईश्वर से तुम सबकी कुशलता की कामना करते हैं। आज ही समाचारपत्र में तुम्हारा परीक्षा परिणाम देखा, जिससे ज्ञात हुआ कि तुमने सभी विषयों में विशेष योग्यता प्राप्त करते हुए कक्षा दसवीं में पूरे प्रांत में प्रथम स्थान प्राप्त किया है। मित्र, यह जानकर मुझे असीम आनंद हुआ।

अपनी इस विशेष उपलब्धि पर मेरी हार्दिक बधाई स्वीकार करो। तुम्हारे परिश्रम और प्रतिभा को देखकर हमें आशा थी कि तुम अवश्य कोई कीर्तिमान स्थापित करोगे में परम पिता परमेश्वर से प्रार्थना करता हूँ कि भविष्य में भी इसी प्रकार सफलता तुम्हारे कदम चूमे।

अपनी माता जी तथा पिता जी को सादर प्रणाम कहना। नन्ही बुलबुल को मधुर प्यार।

तुम्हारा अभिन्न मित्र,

अपूर्व कठाले

103, सलिल विला,

टैगोर पार्क,

शिर्डी 423109

xyz@abc.com


How To Write Letter In Hindi – औपचारिक पत्र

अरुण पाठक, महामंत्री, न्यू आवास पेयजल की समस्या संबंधी पत्र लिखता है।

9 अगस्त, 2019

सेवा में,

स्वास्थ्य अधिकारी महोदय,

नगर निगम,

नाशिक – 411005

विषय: पेयजल की समस्या हल करना।

श्रीमान जी,

हम न्यू आवास विकास के निवासी हैं। इस पत्र के माध्यम से हम अपने क्षेत्र की पेयजल की समस्या आपके सामने प्रस्तुत कर रहे हैं। यहाँ पेयजल का भारी संकट है।

दिन भर में केवल एक घंटे के लिए नलों में पानी आता है और वह भी इतने कम दबाव के साथ कि पहली मंजिल पर भी पानी नहीं चढ़ पाता। हालत यह है कि दैनिक जरूरतों के लिए भी पर्याप्त जल नहीं मिल पा रहा है।

आपसे अनुरोध है कि इस विपत्ति से छुटकारा दिलाने के लिए पानी का दबाव तथा समयावधि बढ़ाने के लिए संबंधित

अधिकारियों को तुरंत निर्देश दें।

धन्यवाद सहित,

भवदीय,

अरुण पाठक

महामंत्री

न्यू आवास विकास समिति, अरुण विला,

नाशिक.

123@xyz.co.in


How To Write Letter In Hindi – अनौपचारिक पत्र

अनुराग छात्रावास, महात्मा गांधी मार्ग, नागपुर से विजय/विजया भालेराव अपने जीवन स्वप्न का वर्णन करते हुए अपने पिता जी को पत्र लिखता/लिखती है।

11 अक्तूबर 2019

आदरणीय पिता जी,

सादर चरण स्पर्श

आपका पत्र प्राप्त हुआ। बड़ी प्रसन्नता हुई। यहाँ मेरा मन लग गया है। नए परिवेश में प्रारंभ में तो घर की बहुत याद आती थी, पर अब मेरे कई मित्र बन गए हैं।

पिता जी, आपने अपने पत्र में मुझसे पूछा है कि मैं भविष्य में क्या बनना चाहता हूँ? मेरे जीवन का लक्ष्य क्या है? जब से आपका पत्र मिला, में इसी सोच-विचार में हूँ कि मुझे क्या बनना चाहिए? या में क्या बनना चाहता हूँ? पिता जी, बार-बार विचार करने पर मुझे समझ आया कि मुझे डॉक्टर बनना चाहिए। आप जानते ही हैं कि हमारा देश स्वास्थ्य सेवा की दृष्टि से कितना पिछड़ा हुआ है। प्रतिवर्ष न जाने कितने व्यक्ति चिकित्सा के अभाव में काल का शिकार बन जाते हैं। मुझे सेवा भाव से ओत-प्रोत यह व्यवसाय बचपन से ही आकर्षित करता रहा है। इसी पेशे को अपनाकर में समाज की बहुत अच्छी तरह सेवा कर पाऊंगा, साथ ही एक सम्मानित जीवन भी व्यतीत कर पाऊँगा।

माता जी को सादर प्रणाम कहिए। पत्र दीजिए।

आपका पुत्र,

विजय भालेराव

2, अनुराग छात्रावास,

महात्मा गाँधी मार्ग,

नागपुर 440005

xyz@abc.co.in


Conclusion – निष्कर्ष

पत्र के द्वारा हम अपनी भावनाओं और अपने विचारों को शब्दों के माध्यम से लिखित रूप में किसी व्यक्ति तक पहुँचाते हैं। आज अपनी भावनाओं और विचारों को दूसरों तक पहुँचाने के लिए तीव्र गति वाले उपकरणों का प्रचार बहुत तेजी से हो रहा है। ऐसी हालत में पहले की अपेक्षा आजकल पत्र लिखने की आवश्यकता बहुत कम पड़ती है। फिर भी अपने खास व्यक्तियों, संबंधियों, मित्रों तथा सरकारी कामकाज के लिए पत्र लिखने की आवश्यकता होती ही है।

आशा करता हूं आपको समझ में आ गया होगा कि How To Write Letter In Hindi. अगर आपके मन में कुछ सवाल है तो आप मुझे नीचे कमेंट करके पूछ सकते हैं। अगर आपको हमारा यह पोस्ट अच्छा लगा हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें। और ऐसी जानकारी के लिए बेल आइकन जरूर दबाएं।

6 thoughts on “How To Write Letter In Hindi – 2021 Letter Writing In Hindi”

Leave a Comment